योगी पहुंचे बंगाल तो टीएमसी विधायक ने ममता को कहा जयश्रीराम

राज्य की सत्ताधारी टीएमसी की मुखिया ममता को फिर बड़ा झटका लगा है। राज्य में टीएमसी के विधायक जितेंद्र तिवारी चुनाव की तैयारियों के बीच टीएमसी विधायक ने बीजेपी का दामन थाम लिया है।

योगी पहुंचे बंगाल तो टीएमसी विधायक ने ममता को कहा जयश्रीराम

कोलकाता। बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assemly Election) के पहले चरण की अधिसूचना जारी कर दी गई है। चुनाव की तैयारियों के बीच, एक बार फिर टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी को झटका मिला है। आसनसोल के पूर्व मेयर और टीएमसी के पांडेश्वर के विधायक जेएसेंद्र तिवारी (जितेंद्र तिवारी) ने टीएमसी से नाता तोड़ लिया है और वह बीजेपी में शामिल हो गए हैं।

आपको बता दें कि कुछ महीने पहले केएमसी प्रशासक फिरहाद हकीम के साथ विवाद के बाद जितेंद्र तिवारी ने टीएमसी और आसनसोल निगम प्रशासक के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन बाद में ममता बनर्जी के हस्तक्षेप के बाद जितेंद्र तिवारी ने फिर से पार्टी की कमान संभाली। 

बाबुल ने जितेंद्र को शामिल करने का विरोध

बताया जा रहा है कि बीजेपी के सांसद बाबुल सुप्रियो ने जितेंद्र तिवारी के पार्टी में शामिल होने का विरोध किया है।  फिलहाल आज जीतेन्द्र तिवारी बीजेपी में शामिल हो गए हैं। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने जितेन्द्र तिवारी को पार्टी में शामिल कराया। इसे टीएमसी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। 

शुभेंदु समेत कई नेता बीजेपी में हुए थे शामिल

इससे पहले ममता बनर्जी के पूर्व मंत्री शुभेंदु अधकारी, पूर्व मंत्री राजीव बनर्जी, पूर्व विधायक वैशाली डालमिया सहित कई टीएमसी नेता बीजेपी में शामिल हो चुके हैं और ये नेता लगातार टीएमसी और ममता बनर्जी पर हमला कर रहे हैं। आसनसोल के हिंदी भाषी क्षेत्र में जितेंद्र तिवारी का बहुत प्रभाव है। उनके भाजपा में शामिल होने से टीएमसी को झटका लग सकता है।

यह भी पढ़ें:- पश्चिम बंगाल में टीएमसी को झटका, मंगलकोट से मुस्लिम विधायक ने चुनाव लड़ने से किया इनकार

कई विधायक कर चुके हैं चुनाव न लड़ने का फैसला

राज्य में टीएमसी लगतार कमजोर हो रही है। कई विधायक बीजेपी में शामिल हो गए हैं। जबकि कई विधायकों ने चुनाव न लड़ने का फैसला किया है। जिसको लेकर टीएमसी सकते हैं में है। क्योंकि राज्य में बीजेपी की ताकत लगातार बढ़ रही है।