कभी थे ममता के सेनापति, बताया था रोहिंग्या की खाला, दीदी ने कहा 'मीर जाफर'

पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए (West Bengal Assembly Polls) के लिए शब्दों को वॉर का शुरू हो गए हैं। ममता बनर्जी शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) को मीर जाफर कहा तो उन्होंने रोहिंग्या की खाला कहा था।

कभी थे ममता के सेनापति, बताया था रोहिंग्या की खाला, दीदी ने कहा 'मीर जाफर'
Sangaram of Nandigram

कोलकाता। पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए (West Bengal Assembly Polls) में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  (Mamta Banerjee)  ने पूर्वी मेदिनीपुर के प्रभावशाली आदिकारी परिवार (Adhikari family of East Medinipur) पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें राहत मिली है कि विधानसभा चुनाव से पहले 'मीर जाफर' टीएमसी से बाहर चले गए। वहीं कुछ दिन पहले शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने ममता बनर्जी को रोहिंग्याओं की खाला बताया था।
गौरतलब है कि जिले में मजबूत राजनीतिक पकड़ रखने वाले अधिकारी परिवार के अधिकांश सदस्य या तो बीजेपी में शामिल हो गए हैं या उन्होंने बीजेपी में शामिल होने की इच्छा जताई है।

ममता का दावा मुझे कोई नहीं रोक सकता

टीएमसी के पूर्व विधायक शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) पहले ही बीजेपी में शामिल हो चुके हैं और नंदीग्राम सीट (Nandigram seat)  से बीजेपी के उम्मीदवार हैं। ममता बनर्जी खुद इस बार नंदीग्राम से चुनाव लड़ रही हैं। टीएमसी प्रमुख ने खजूरी की चुनावी रैली में भाजपा को 'सामंती जमींदार की पार्टी' के रूप में वर्णित किया। ममता ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी पूरे देश को बेचने में ज्यादा दिलचस्पी दिखा रही है।

ममता बनर्जी ने कहा, 'धन्यवाद भगवान मीर जाफर चले गए हैं और अब जाकर मुझे राहत मिली। जब भी मैं नंदीग्राम (Nandigram), खेजुरी या कंठी आना चाहता थी, वे मुझे रोक लेते थे।  टीएमसी प्रमुख (TMC Chief)  ने कहा, 'बीजेपी को डिमैनेटाइजेशन मनी, पीएम केयर फंड के बारे में स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए।'

ममता ने मतदाताओं से की अपील

ममता बनर्जी ने मतदान के दौरान सावधानी बरतने और दो बार ईवीएम की जांच करने का आग्रह किया। बनर्जी ने पार्टी के प्रसिद्ध नारे खेला होबे ’का आह्वान करते हुए बीजेपी को सत्ता से बाहर भागने की अपील की। 

यह खबर भी पढ़ें- जय श्रीराम से ममता को है परहेज, चुनाव आए तो करने लगी चंडीपाठ

शुभेंदु ने बताया था रोहिंग्याओं की खाला

पिछले दिनों शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने ममता बनर्जी को रोहिंग्याओं की खाला बताया था। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी राज्य में रोहिंग्याओं को बसा रही हैं और हिंदू होने के बावजूद उन्हें जयश्रीराम से डर लगता है।